Government Job Benefits: Job Security, Perks, and More

Government Job Benefits: हर साल लाखों युवा सरकारी नौकरी की तैयारी करते हैं। भारत में सरकारी नौकरी को लेकर काफी क्रेज है। देश में बहुत से युवा सरकारी नौकरी की तैयारी करने के लिए अपने घर को छोड़कर दूसरे शहरों में जाते है। क्योंकि उनको सरकारी नौकरी में अपना बेहतर भविष्य नजर आता है। प्रतियोगी परीक्षा पास करने के बाद विभिन्न विभागों में उनकी नियुक्ति हो जाती है। सरकारी नौकरी के फायदे भारत में सबसे अधिक भुगतान करने वाली अधिकांश सरकारी नौकरियों के लिए भर्ती का पसंदीदा तरीका प्रतियोगी परीक्षाओं के माध्यम से होता है।

Government Job Benefits
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Government Job करने के बहुत Benefits होते हैं, जिनकी वजह से इतने लोग इनकी तरफ आकर्षित होते हैं। अगर आप भी अभी तक करियर को लेकर कंफ्यूज हैं और निजी व सरकारी क्षेत्रों में से एक का चयन नहीं कर पा रहें हैं, तो हम आपको आज इस आर्टिकल में Government Job Benefits के बारे में बताने वाले है।

सरकारी नौकरी क्या है?

सरकारी नौकरी का मतलब है कि जिसमें व्यक्ति केंद्र अथवा राज्य सरकार का कर्मचारी होता है। सरकारी नौकरी के अंतर्गत, UPSC, बैंक, रक्षा, रेलवे, SSC, राज्य सेवा परीक्षा, PSU और शिक्षक से लेकर विभिन्न प्रकार की नौकरियां आती हैं। सरकारी नौकरी का सबसे बड़ा महत्व यह है कि यह सिक्योर रहती है।

काम के घंटे है फिक्स

सरकारी नौकरी का सबसे बड़ा यह फायदा होता है कि ज्यादातर ऑफिस में काम के घंटे फिक्स होते हैं। आपको किसी भी सरकारी विभाग में 8 घंटे काम करना होता है। अपनी ड्यूटी करने के बाद आप फ्री टाइम में कुछ भी कर सकते हैं। अपना खुद का साइड बिज़नेस भी शुरू कर सकते हैं। वहीं प्राइवेट जॉब में अक्सर 10-12 घंटे काम करना होता है।

जॉब सिक्योरिटी

सरकारी जॉब का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह नौकरी जीवन भर तक होती है। जिसके अंदर सरकारी कर्मचारी को 60 वर्ष तक नौकरी करनी होती है। सरकार ने एक अलग प्रकार का ही नियम बनाया है। परंतु यह बात तो सबसे अच्छी है, की रिटायरमेंट होने के बाद पेंशन के तौर पर इनकम तो जिंदगी भर मिलती है। जबकि निजी क्षेत्र की नौकरी मे आदमी का भविष्य खतरे में ही रहता है।

छुट्टियां अधिक मिलती है

सरकारी जॉब करने वाले व्यक्ति को प्राइवेट जॉब में काम करने व्यक्ति से ज्यादा छुट्टी रहती है। सरकारी नौकरी में काम का लोड भी बहुत कम होता है। भारत एक ऐसा देश है, जिसके अंदर हर 2-3 महीने के अंदर कोई ना कोई त्योहार आते ही रहते है। अगर सरकारी शिक्षक है तो गर्मियों की छुट्टी भी बहुत अधिक मिलती है और सर्दियों में भी छुट्टी मिलती है। सरकारी जॉब करने वाले कर्मचारी को 1 साल में 3 महीने से भी ज्यादा छुट्टी रहती है। इसके अलावा अधिकतर सरकारी विभागों में शनिवार और रविवार की भी छुटियां मिलती है।

पेंशन स्कीम

सरकारी जॉब करने का सबसे बड़ा यह फायदा होता है कि वह पूरी जिंदगी सरकार के साथ मिलकर सेवा करता है, और इनके बदले उन्हें पेंशन देता है। सबसे बड़ा यह फायदा होता है कि कर्मचारी को तो पेंशन मिलता है परंतु उसकी मृत्यु होने के बाद भी उनके बीवी बच्चों को भी पेंशन मिलता रहता है। परंतु प्राइवेट जॉब में ऐसे किसी भी प्रकार की स्कीम नहीं होती। कुछ लोगों को सरकारी आवास के साथ ही कार व हेल्पर्स की सुविधा भी मिलती है।

हेल्थ केयर की फ्री सुविधा

सरकारी नौकरी करने वाले व्यक्ति को फ्री मेडिकल की सुविधा मिलती है। उनके साथ ही उनके परिवार के सदस्य भी इसका लाभ उठा सकते हैं। सरकारी नौकरी करने वाले कर्मचारी को रिटायरमेंट के बाद भी ये सुविधाएं मिलती हैं। हेल्थकेयर में काम करने वाले सरकारी कर्मचारी को रहने के लिए आवास भी दिया जाता है।

समाज में बढ़ता है सम्मान

सरकारी नौकरी लगते ही व्यक्ति की समाज में अपने आप ही सम्मान बढ़ जाता है। जिसके पास गाड़ी, बंगला, पैसा, प्रॉपर्टी यह सभी चीजों हो तो कौन उसकी इज्जत नहीं करेगा। पैसा तो बहुत ही दूर की बात है, परंतु सरकारी नौकरी ही लोगों के दिल में राज करने के लिए काफी होती है। सरकारी जॉब का नाम सुनते ही लोगों की नजर में अपनी एक अलग प्रकार की ही इम्प्रैशन पड़ता है।

प्रमोशन और वेतन वृद्धि

सरकारी नौकरी के अंदर वेतन वृद्धि और प्रमोशन एक समय के लिए निर्धारित होता है। सैलेरी इंक्रीमेंट के लिए किसी भी प्रकार का एक्स्ट्रा काम करना नहीं होता। समय पूरा होते ही आप हो आप आपको प्रमोशन और सैलरी इन्क्रीमेंट मिल जाता है।

फैमिली बेनिफिट्स

जब किसी घर में एक आदमी सरकारी जॉब करता है तो पूरा परिवार सुखी होता है। ऐसे कई सारे सरकारी जॉब के अंदर विभाग होता है जो परिवार को सुविधा देती है। सरकारी नौकरी के फायदे में यह सबसे बड़ा फायदा है कि यहां पर काम का बहुत ही कम दबाव होता है। यहां पर ज़रूरी नहीं होता कि आज के आज ही काम को खत्म करना। यहां पर किसी भी प्रकार की डेडलाइन नहीं होती, अगर डेडलाइन होती भी है तो वह प्राइवेट नौकरी की तरह नहीं होती है। इसलिए सरकारी नौकरी ऐशोआराम की नौकरी मानी जाती है।

  • आसानी से लोन भी मिल जाता है।
  • मेडिकल विभाग का खर्चा भी नहीं लगता।
  • काम का दबाव कम होता है।
  • बच्चों को पढ़ाई के लिए सरकार खर्च भी उठाती है।
  • कई सरकारी विभाग जैसे- रेलवे आदि में ट्रेवलिंग का भी खर्चा सरकार ही वहन करती है।

Leave a comment