High Paid Government Job In India: भारत में सबसे ज्यादा वेतन वाली सरकारी नौकरियां

High Paid Government Job In India: हमारे देश में युवाओं की सबसे ज्यादा डिमांड सरकारी नौकरी की होती है। सरकारी नौकरी पाने के लिए अभ्यर्थी दिन-रात जीतोड़ मेहनत करते है। आजकल प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रतिस्पर्धा अधिक होने के कारण युवाओं को सरकारी नौकरी के लिए बहुत अधिक मेहनत करनी पढ़ती हैं। सरकारी क्षेत्र की नौकरियों में कई सुविधाओं के साथ ही अच्छी सैलरी भी दी जाती है। भारत में ऐसी कई नौकरियां है जिसमें कई सुविधाओं के साथ ही बेहतर सैलरी भी मिलती है।

High Paid Government Job In India
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

सरकारी नौकरी में आपका और आपके परिवार का भी ख्याल रखा जाता है। साथ ही सेवानिवृत्ति के बाद भी पेंशन का भुगतान किया जाता है। हम आज यहां पर आपको भारत की उन सरकारी नौकरियों के बारे में बता रहे हैं जिसमें सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है। युवाओं का सपना होता है कि वे ऐसी ही नौकरी करें, जिसमें उन्हें ज्यादा सैलरी मिलने के साथ-साथ अन्य तरह की सुविधाएं भी मिलें। ताकि वे अपना खर्च आसानी से चला सकें। सरकारी नौकरी से जो वित्तीय स्थिरता और सुरक्षा मिलती है, वह प्राइवेट नौकरी में नहीं मिलती। इसलिए हर किसी का सपना सरकारी नौकरी करने का ही होता है।

1. IAS और IPS

आईएएस और आईपीएस देश की सबसे प्रतिष्ठित सरकारी नौकरियों में से एक है। इस पद के ऑफिसर के पास कई बड़े अधिकार होते हैं। आईएएस और आईपीएस के लिए 7वें वेतन आयोग के तहत सैलरी दी जाती है। एक आईएएस को शुरुआत में 56,100 रुपए महीने की सैलरी दी जाती है। जो बाद में 2 लाख से 3 लाख रुपए महीने तक हो सकती है।IAS और IPS अधिकारियों को रहने के लिए सरकारी आवास और यात्रा के लिए कार, स्वास्थ्य सहित कई तरह के भत्तों का भी पैसा दिया जाता है।

इन पदों के लिए उम्मीदवार की आयु 21 वर्ष से 32 वर्ष के बीच होनी चाहिए। तथा उम्मीदवार ग्रेजुएशन किया होना चाहिए। इस पद के लिए अभ्यर्थियों का चयन यूपीएससी (UPSC) परीक्षा के माध्यम से किया जाता है। इसके अलावा उमीदावारों का चयन प्रीलिम्स (Prilims) मेंस (Mains) और इंटरव्यू (Interview) के बाद किया जाता है।

2. IFS (Indian Forest Services)

इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज के तहत चयनित होने वाले अभ्यर्थियों को शुरुआत में 42000 रुपए तक की सैलरी दी जाती है। हालांकि, कुछ समय बाद यह सैलरी बढ़ भी जाती है और 1 लाख तक पहुंच जाती है। इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज के लिए अभ्यर्थियों का चयन संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) एग्जाम के तहत किया जाता है। इसके लिए यूपीएससी परीक्षा आयोजित करता है। और इसके लिए आयु और शैक्षणिक योग्यता IAS के समान ही होती है। अभ्यर्थियों का चयन प्रीलिम्, मेंस और इंटरव्यू के बाद किया जाता है। IFS सबसे अच्छी जॉब है क्योंकि इस पद पर चयनित उम्मीदवारों को वन्यजीवों और वन क्षेत्रों के बीच काम करना पड़ता है। भारतीय वन सेवा में कार्य करने वाले अधिकारीयों को सरकारी आवास, हेल्पर, पर्सनल असिस्टेंट और गाड़ी भी मिलती है।

3. ISRO और DRDO में वैज्ञानिक

अनुसंधान और विकास में रुचि रखने वालेअभ्यर्थी इसरो और डीआरडीओ में वैज्ञानिकों और इंजीनियरों के पद के लिए आवेदन कर सकते हैं। इन संगठनों में काम करने वाले व्यक्ति को 60,000 रूपये तक सैलरी दी जाती है। उसके साथ ही आवास की उत्तम सुविधा प्राप्त होती है। और अन्य साइट पर जाने के लिए वाहन सुविधा मिलती हैं। इन पदों पर आवदेन करने के लिए उमीदवारों को मास्टर्स डिग्री हासिल होनी चाहिए। साथ ही इन संस्थाओं में काम करने के इच्छुक उम्मीदवारों की आयु 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

Post Scientist
Eligibility Masters in Respective Field
Salary 60,000
Official Website https://www.isro.gov.in/

4. RBI ग्रेड B ऑफिसर

यदि आप भी बैंकिंग क्षेत्र में रुचि रखते हैं तो RBI ग्रेड B आपके करियर की शुरुआत करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प है। RBI देश का प्रतिष्ठित बैंक है जिसे बैंकों का बैंक भी कहा जाता है। हर किसी उमीदवार का सपना होता है की वह RBI ग्रेड B के पद पर कार्य करना चाहता है। आरबीआई ग्रेड B में अच्छे पे स्केल के साथ पदोन्नति के भी अच्छे अवसर मिलते हैं। आरबीआई ग्रेड-बी में चयनित होने वाले अभ्यर्थियों को अच्छी सैलरी मिलती है। RBI Grade B ऑफिसर को 60-70 हजार रुपये का वेतन मिलता है। इसके साथ 3BHK फ्लैट के साथ 180 लीटर पेट्रोल, बच्चों की शिक्षा आदि के लिए भत्ते दिए जाते हैं।

आरबीआई अलग से परीक्षा आयोजित करता है। आरबीआई ग्रेड बी पात्रता के लिए उम्मीदवारों को कुछ मानदंडों को पूरा करना आवश्यक है। उनके पास न्यूनतम 60% अंकों या समकक्ष ग्रेड के साथ स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। आयु सीमा आम तौर पर 21 से 30 वर्ष के बीच होती है।आरबीआई ग्रेड बी चयन प्रक्रिया में 3 चरण शामिल हैं। अर्थात् प्रीलिम्स , मेन्स और साक्षात्कार।

5. न्यायधीश (Judge)

भारत में न्यायाधीश बनने के पास जितनी बड़ी जिम्मेदारी होती है। उनकी सैलरी भी उतनी ही शानदार होती है। हाईकोर्ट के जज को हर महीने 2,25,000 रुपये सैलरी मिलती है। वहीं, सुप्रीम कोर्ट के जज की सैलरी 2.50 लाख रुपये होती है। साथ ही अन्य सरकारी भत्तों का लाभ भी दिया जाता है। जज के लिए हर राज्य का हाई कोर्ट परीक्षा आयोजित करवाता है। आरजेएस परीक्षा के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है, जबकि ऊपरी आयु सीमा 40 वर्ष है। उम्मीदवारों के पास अधिवक्ता अधिनियम 1961 के तहत मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से एलएलबी डिग्री या समकक्ष स्नातक डिग्री होनी चाहिए। आरजेएस परीक्षा चयन प्रक्रिया में तीन चरण शामिल हैं, यानी प्रीलिम्स, मेन्स और उसके बाद साक्षात्कार।

6. रक्षा सेवाएँ (Defence Services)

रक्षा सेवाओं में नौकरी पाने की इच्छा रखने वाले स्टूडेंट्स को लेफ्टिनेंट पदों पर चयन के लिए यूपीएससी (UPSC) के तहत NDA, CDS, AFCAT आदि परीक्षा आयोजित की जाती है। Defense Services में आप हाई स्कूल के बाद या स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद शामिल हो सकते हैं। भारतीय नौसेना, भारतीय वायु सेना प्रदान और भारतीय थल सेना। अभ्यर्थियों का चयन प्रीलिम्स, मेंस, जीडी, फिजिकल टेस्ट, पीईटी टेस्ट और इंटरव्यू के बाद किया जाता है। यह एक चुनौतीपूर्ण जॉब है। लेकिन इसमें पदोन्नति के विभिन्न अवसर मिलते हैं। इसके अंतर्गत मुफ्त राशन भत्ता और

सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन भी दी जाती है। इसके आलावा वर्दी, परिवहन और और बच्चो की शिक्षा के लिए भत्ता दिया जाता है। एक कर्नलकी शुरुआती सैलरी 68000 रुपए होती है। वहीं, मेजर बनने पर सैलरी 1 लाख रुपए हो जाती है।

7. PSU (Public Sector Undertaking) में जॉब्स

PSU का मतलब है सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम में नौकरी करना है। पीएसयू के लिए इंजीनियरिंग के अभ्यर्थी GATE परीक्षा में शामिल होते हैं। पीएसयू में चयनित इंजीनियरों को शुरुआती 50000 रुपए की सैलरी दी जाती है। उन्हें कंपनी में आवास या HRA की सुविधा मिलती है। उन्हें एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानांतरण के अनुसार वेतन में वृद्धि मिलती है। भेल, आईओसीएल और ओएनजीसी जैसे विभिन्न संगठनों का वेतन अलग-अलग है। इसके अलावा जैसे-जैसे उनका पद बढ़ता है, वैसे-वैसे सैलरी भी बढ़ती जाती है।

8. स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (SSC)

कर्मचारी चयन आयोग (SSC) हर साल हजारों सरकारी पदों पर भर्तियां निकालता है। SSC की ओर से हर साल कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल एग्जाम (SSC CGL) का आयोजन किया जाता है। यह ग्रेजुएट युवाओं के लिए होती है. इसके जरिए पे लेवल-4 से लेकर पे लेवल 8 तक के भिन्न-भिन्न पदों पर भर्तियां होती हैं. जिसमें असिस्टेंट ऑडिट ऑफिसर, असिस्टेंट अकाउंटेंट्स ऑफिसर, असिस्टेंट सेक्शन ऑफिसर, इनकम टैक्स इंस्पेक्टर जैसे पद शामिल है। इन पदों पर अभ्यर्थियों का चयन टियर-1, टियर-2, टियर-3 और इंटरव्यू के बाद किया जाता है।

9. इंडियन फॉरेन सर्विसेज (IFS)

इंडियन फॉरेन सर्विसेज (IFS) के पदों पर भर्ती के लिए संघ लोक सेवा आयोग परीक्षा आयोजित करता है। UPSC सिविल सेवा परीक्षा के तहत भारतीय विदेश सेवा एक प्रतिष्ठित पद हैं। ये अधिकारी अपना आधा जीवन विदेशों में बिताते हैं। जिसमें वह किसी एक देश में 3 साल से अधिक नहीं रुक सकते है। एक IFS अधिकारी को अन्य सभी लाभों सहित 60 हजार का वेतन दिया जाता है। हालांकि बाद में सैलरी बढ़कर 1 लाख रुपए तक पहुंच जाती है। इस पद पर भर्ती के लिए UPSC सिविल सेवा हर साल तीन चरणों में भर्ती प्रक्रिया आयोजित करता है। इन पदों पर अभ्यर्थियों का चयन प्रीलिम्स, मेंस और इंटरव्यू के आधार पर होता है।

10. सरकारी कॉलेजों में Lecturers और Proffers

शिक्षा विभाग में लेक्चरर की नौकरी सबसे अच्छी मानी जाती है। यह उन उम्मीदवारों के लिए बहुत सुविधा जनक है जो अपने लिए समय निकालना चाहते हैं। साथ ही इसमें किसी प्रकार का प्रेशर नहीं होता है। सरकारी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में पढ़ाने वाले प्रोफेसर्स और लेक्चरर को शुरुआती सैलरी 50 हजार से 1 लाख रूपये तक सैलरी दी जाती है। इसके साथ ही चिकित्सा और आवास जैसी सुविधाएँ भी उपलब्ध की जाती हैं। लेक्चरर बनने के नेट (NET) क्वालिफाई करना पड़ता है।

Post Lecturer
Salary 50,000 – 100000
Eligibility Master’s Degree
Official Website UGC NET

11. विदेश मंत्रालय में ASO

विदेश मंत्रालय में ASO एएसओ के रूप में नौकरी पाने के लिए उम्मीदवारों को SSC CGL परीक्षा पास करनी होती है। इन्हें शुरुआत में सैलरी 1.25 लाख रुपए दी जाती है। इनको चिकित्सा सुविधा के साथ आवास सुविधाएं भी मिलती हैं। उन्हें देश के बड़े अस्पतालों में बेहतरीन चिकित्सा सुविधा के साथ देखभाल और सुरक्षा मिलती हैं।

PostASO
Salary 1.25 lakh
Eligibility Graduation
Official Website SSC

Leave a comment