Old Pension Scheme: कर्मचारियों को मिलेगा पुरानी पेंशन का पूरा पैसा, यहाँ देखें पूरी जानकारी

सरकार ने 2023 में पुरानी पेंशन योजना को बंद कर दिया था। इसके बाद 2024 से नई पेंशन योजना (NPSed) सभी केंद्रीय कर्मचारियों पर लागू कर दी गई थी। अब सवाल उठ रहा है कि क्या सरकार पुरानी पेंशन योजना को वापस लाएगी या नहीं। इस बारे में अभी कोई क्लियर जानकारी नहीं है।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

यह लेख पुरानी पेंशन स्कीम (ओल्ड पेंशन स्कीम) के बारे में है। सरकार के एक मंत्री ने इस विषय पर बयान दिया है, जिसके बारे में आपको जानना चाहिए। इस लेख में हम आपको ओल्ड पेंशन स्कीम के बारे में पूरी जानकारी देंगे। हम आपको बताएंगे कि भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) ने इस योजना के बारे में क्या कहा है। साथ ही, हम यह भी बताएंगे कि क्या ओपीएस को दोबारा से लागू किया जाएगा।

Old Pension Scheme

पुरानी पेंशन योजना (ओल्ड पेंशन स्कीम) के बारे में काफी चर्चा हो रही है और सरकार ने इस पर एक बड़ा अपडेट जारी किया है। जानकारी के लिए, बता दें कि सरकार फिलहाल पुरानी पेंशन योजना पर विचार नहीं कर रही है। सोमवार को, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने पुरानी पेंशन योजना के बारे में एक बयान दिया था।

सरल शब्दों में कहें तो, लोग पुरानी पेंशन योजना को लागू करने की मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार ने स्पष्ट किया है कि वर्तमान में वह इस पर विचार नहीं कर रही है। हालांकि, इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री ने अपना रुख रखा है।

Old Pension स्कीम क्या है

पुरानी पेंशन योजना (ओल्ड पेंशन स्कीम) के तहत, केंद्रीय कर्मचारियों को कोई अंशदान जमा नहीं करना पड़ता था। जब कर्मचारी सेवानिवृत्त हो जाता था, तो उसे आधा वेतन पेंशन के रूप में मिलता था। सेवानिवृत्ति के बाद, सरकारी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता भी दिया जाता था। जब कर्मचारी के महंगाई भत्ते में वृद्धि होती थी, तो उसी तरह पुरानी पेंशन योजना के तहत पेंशनरों के महंगाई राहत भत्ते में भी बढ़ोतरी की जाती थी। हालांकि, बिना किसी जमा फंड के कर्मचारियों को पेंशन और महंगाई भत्ता देना सरकार पर काफी भारी पड़ता है।

Old Pension Scheme
Old Pension Scheme

आरबीआई ने ओपीएस के लिए किया है मना

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने सभी केंद्रीय कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme) को फिर से शुरू करने से इनकार कर दिया है। आरबीआई ने देश के राज्यों से कहा है कि वे इस योजना को दोबारा लागू न करें। यदि पुरानी पेंशन प्रणाली को फिर से लागू कर दिया जाएगा, तो इससे राज्य सरकारों पर वित्तीय खर्च लगभग 4.5 गुना तक बढ़ सकता है

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) की रिपोर्ट के अनुसार, अगर पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme) फिर से लागू की जाएगी तो सरकार अन्य कल्याणकारी कार्यक्रमों को ठीक से नहीं चला पाएगी।

ओपीएस को 5 राज्यों ने किया लागू

देश में पांच राज्य – पंजाब, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड – में पुरानी पेंशन योजना (Old Pension Scheme) को एक बार फिर से लागू कर दिया गया है। कर्नाटक राज्य भी इस योजना को लागू करने पर विचार कर रहा है। हालांकि, ऐसा करना सही नहीं है।

भारतीय रिज़र्व बैंक और केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने स्पष्ट किया है कि पुरानी पेंशन योजना को फिर से लागू नहीं किया जाएगा। मंत्री ने कहा है कि इस योजना को वापस लाने की कोई योजना नहीं बनाई गई है।

इसलिए, पुरानी पेंशन प्रणाली को अब फिर से नहीं लाया जाएगा। केंद्रीय कर्मचारियों को राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) के तहत ही पेंशन प्रदान की जाएगी।

Leave a comment